EnglishAapki
English Aapki

Subject and Predicate in Hindi With Examples (कर्ता/विषय और विधेय )


Subject और Predicate को जानना से पहले ये जानना जरूरी है की वाक्य क्या होता है, क्योंकि सब्जेक्ट और प्रेडकेट किसी भी वाक्य के ही भाग होते है।

हम सब जानते है की वाक्य क्या होता है, परंतु ग्रामर के नज़रिये से वाक्य (सेन्टन्स) क्या होता है इसे समझना होगा।

शब्दों का एक समूह, जिसमें शब्दों को इस क्रम में रखा जाए की उन शब्दों से एक पूर्ण अर्थ प्रकट हो उसे वाक्य कहते है। इस परिभाषा से ऐसा लगता है जैसे परिभाषा थोड़ी सी जटिल है। देखिये हम इंग्लिश बोलने और लिखने में क्या गलती करते है, हम शब्दों के समूह को ठीक क्रम में रखकर बोलते या लिखते नहीं है या सही शब्दों का चयन नहीं करते है, तब माना जाता की हमें इंग्लिश नहीं आती है। क्यों की उन शब्दों से एक पूर्ण अर्थ प्रकट नहीं होता। सही शब्दों का, सही क्रम में प्रयोग एक वाक्य को जन्म देता है।

What Is a Subject? (कर्ता/विषय क्या है?)

हर वाक्य के दो मुख्य भाग होते है Subject और Predicate। सब्जेक्ट वो होता है, जिसके बारे में उस वाक्य में बात हो रही है या वाक्य में जिसका द्वारा कोई ऐक्टिविटी हो रही है। क्यों की सब्जेक्ट के द्वारा कोई ना कोई ऐक्टिविटी होती है इसलिए उस वाक्य में सब्जेक्ट को पहचानने के लिए क्रिया अर्थात verb का होना आवश्यक है। सब्जेक्ट को समझने के लिए हम सबसे पहले उस वाक्य की क्रिया अर्थात Verb को देखेंगे। उस वाक्य में कौन उस क्रिया अर्थात उस ऐक्टिविटी को कर रहा है या उस वाक्य में किसके बारे जानकारी दी जा रही है, वही उस वाक्य का Subject होगा। सब्जेक्ट या तो Noun (संज्ञा), या Pronoun (सर्वनाम), Gerund (जेरन्ड), या इन सबका समूह हो सकता है।

जैसे: Shivani is a teacher. (शिवानी एक अध्यापिका है।)

इस वाक्य में एक जानकारी दी जा रही है, वो जानकारी है की शिवानी एक अध्यापिका है। तो किसके बारे में जानकारी दी जा रही है? शिवानी के बारे में। तो इस वाक्य में सब्जेक्ट हो गया 'शिवानी (Shivani)'।

अब दूसरा वाक्य लेते है, Manish goes to school. (मनीष स्कूल जाता है।)

इस वाक्य में मनीष के बारे में बात हो रही है और मनीष के द्वारा ही स्कूल जाने की ऐक्टिविटी हो रही है। तो सब्जेक्ट हो गया मनीष।

अब तीसरा वाक्य लेते है, जैसे She has a new car. (उसके पास एक नई कार है।)

किसके पास नई कार है? किसके बारे में बात हो रही है? उसके (She) बारे में बात हो रही है। यहाँ जो subject है, वो है 'She (वह)'।

एक और वाक्य लेते है : He is reading a book. (वह एक किताब पढ़ रहा है।)

अब इस वाक्य में कार्य हो रहा है या ऐसा कह ले की कोई ना कोई क्रिया हो रही है। क्या कार्य या क्रिया हो रही है? किताब पढ़ी जा रही है, कौन किताब पढ़ रहा है? तो जवाब होगा 'वह (He)'।

तो इस वाक्य का सब्जेक्ट होगा 'वह (He)'।

एक आज्ञासूचक वाक्य भी लेते है, जैसे Be a good girl. (अच्छी लड़की बनो।)

जिसको अच्छी लड़की बनने के लिए कहा जा रहा है, वो यहां दिखाई नहीं दे रहा है जो इस वाक्य में सब्जेक्ट है। इस तरह के आज्ञा सूचक वाक्यों (Imperative sentences) में सब्जेक्ट होता है You, जो की वाक्य में दिखाई नहीं देता है।

Subject वाक्य के शुरू मे, मध्य मे या अंत मे कही भी हो सकता है, ऐसा अनिवार्य नहीं है कि सब्जेक्ट वाक्य के शुरू मे ही हो।

What Is a Predicate? (विधेय क्या है?)

चलिए अब Predicate को समझते है। सब्जेक्ट के बारे में जो भी जानकारी हमे वाक्य में प्राप्त होती है, जैसे सब्जेक्ट क्या कर रहा है, सब्जेक्ट किस स्थिती में है, या सब्जेक्ट को क्या कहा जा रहा है वो वाक्य के प्रेडकेट वाले हिस्से में होती है। प्रेडकेट में Verb अर्थात क्रिया का होना अनिवार्य है।

किसी भी वाक्य में सब्जेक्ट के बाद जो हिस्सा वाक्य में बच जाता है, वो Predicate कहलाता है। जैसे : Manish goes to school (मनीष स्कूल जाता है) । Manish इसमे सब्जेक्ट है और वाक्य का बाकी बचा भाग 'goes to school' प्रेडकेट है।

Three Types of Predicates (विधेय के तीन प्रकार)

Predicate (विधेय) को मुख्यत: हम तीन भागों मे बाँट सकते है।

पहली Verb अर्थात क्रिया,
दूसरा Object अर्थात कर्म,
तीसरे Complements (कॉम्प्लीमेंटस) अर्थात ऐसे शब्द जो सब्जेक्ट और ऑब्जेक्ट के बारे और अधिक जानकारी देते है।
अब तीनों को बारी-बारी से समझते है।

What is a Verb? (क्रिया क्या है?)

जैसा की हम जानते है कि किसी भी वाक्य मे Subject को जानने के लिए उस वाक्य मे क्रिया का होना जरूरी है। क्योंकि subject क्या कर रहा है या subject किस अवस्था मे है, ये हमे उस वाक्य की verb (क्रिया) को देख कर ही पता लगता है। कोई भी वाक्य बिना verb के नहीं हो सकता।

तो इस आधार से हम समझ सकते है की verb वाक्य के वो शब्द है जो हमे subject द्वारा किए गए कार्य या उसकी अवस्था बारे मे बताते है। अब verb के कुछ उदाहरण लेते है, जैसे:

Sleep (सोना), hear (सुनना), read (पढ़ना), write (लिखना), laugh (हँसना), cry (रोना), drink (पीना), इत्यादि।

जैसा की हम देख रहे है हिन्दी मे इन सब शब्दों के अंत 'ना' आता है जिससे हमे हिन्दी भाषा मे क्रिया को पहचानने मे आसानी होती है, परंतु इंग्लिश मे ऐसा कुछ भी नहीं है।

Verb के बारे मे अधिक जानने के लिए यहॉं क्लिक करे।

What Is an Object? (कर्म क्या है?)

अब समझते है की ऑब्जेक्ट क्या है, जिसे हिन्दी में कर्म कहते है। सब्जेक्ट के द्वारा जो भी क्रिया या कार्य किया जाता है, उस कार्य या क्रिया का प्रभाव जिस पर पड़ता है या ऐसा कह सकते है कि उस कार्य या क्रिया से जो प्रभावित होता है, वो उस वाक्य में ऑब्जेक्ट कहलाता है। इसे उदाहरण से समझते है:

Manish bought a new car. (मनीष ने एक नई कार खरीदी।)

जैसा की हम देख रहे है कि इस वाक्य में सब्जेक्ट है मनीष (Manish), क्योंकि किसी भी वाक्य में क्रिया या कार्य को करने वाला सब्जेक्ट होता है। यहाँ मनीष ने कार (car) खरीदने का कार्य किया। तो इसमें जो क्रिया हुई वो कार (car) पर हुई, क्यों की कार (car) को ही तो खरीदा गया है। तो हम देख रहे है की क्रिया का प्रभाव कार (car) पर हुआ, और जिस पर सब्जेक्ट की क्रिया या कार्य का प्रभाव पड़ता है वो उस वाक्य में ऑब्जेक्ट होता है। तो इस वाक्य में ऑब्जेक्ट हो गया 'कार (car)'।

Direct and Indirect Objects (प्रत्यक्ष कर्म और अप्रत्यक्ष कर्म)

बहुत से वाक्यों में दो ऑब्जेक्ट पाए जाते है। जैसे:

He was teaching the children English. (वह बच्चों को इंग्लिश पढ़ा रहा था। )

इस वाक्य में दो ऑब्जेक्ट है पहला Direct Object, दूसरा Indirect Object।, कैसे? चलिए समझते है।

What is a direct object?

किसी भी वाक्य में जिस पर कार्य या क्रिया का सीधा प्रभाव पड़ता है उसे Direct Object कहते है। डायरेक्ट ऑब्जेक्ट को पहचानने के लिए हम देखेंगे कि क्रिया (verb) का किसपर (Whom) या क्या (What) प्रभाव पड़ रहा है, इस वाक्य में क्रिया है पढ़ाना (teaching), तो यहा क्या (What) पढ़ाया जा रहा था? इंग्लिश (English) पढ़ाई जा रही थी।

तो इसमे direct object है 'इंग्लिश (English)'।

What is an indirect object?

डायरेक्ट ऑब्जेक्ट को जो प्राप्त करता है या उससे जो प्रभावित होता है उसे Indirect Object कहते है। पिछले वाक्य मे direct object जो की 'इंग्लिश (English)' है, किसलिए (for what) या किसके लिए (to whom) पढ़ाई जा रही थी? तो हम देख रहे है की इंग्लिश बच्चों (the children) को पढ़ाई जा रही थी।

तो इसमे indirect object हो गया 'बच्चे (the children)'।

हमें ये ध्यान रखना है की indirect object हमेशा direct object के पहले आता है। किसी भी वाक्य में direct object तो अकेला हो सकता है, परंतु indirect object बिना direct object के वाक्य में नहीं होता।

What Is a Complement? (कॉम्प्लीमेंट क्या है?)

अब तक Subject और Object के बारे मे जानते है। ऐसे शब्द जो इन Subject और Object के बारे मे हमारी जानकारी को और बढ़ाते है, वो उस वाक्य मे Complement (कॉम्प्लीमेंट) कहलाते है।

Types of Complements (कॉम्प्लीमेंट के प्रकार)

Complement मुख्यत: Subject Complement और Object Complement दो प्रकार के होते है।

Subject Complement (सब्जेक्ट कॉम्प्लीमेंट)

जिन शब्दों से वाक्य मे सब्जेक्ट के बारे मे हमारी जानकारी मे बढ़ोतरी होती है उन्हे Subject Complement कहते है। जैसे:

He is very stingy. (वह बहुत कंजूस है।)

जैसा कि हम जानते है कि 'He' इस वाक्य मे सब्जेक्ट है। very stingy (बड़ा कंजूस) यहाँ Subject Complement कहलाएगा, क्योंकि ये सब्जेक्ट के बारे मे हमारी जानकारी को बढ़ा रहा है। और उदाहरण देखते है:

Shivani looks pretty. (शिवानी सुंदर लगती है।)
He is a talented cricketer. (वह एक प्रतिभाशाली क्रिकेटर है।)
India was declared the winner. (भारत को विजेता घोषित किया गया)
The coffee smells delicious. (कॉफी की महक रुचिकर होती है।)
He became a close friend. (वह एक घनिष्ठ मित्र बन गया।)

Object Complement (ऑब्जेक्ट कॉम्प्लीमेंट)

जिन शब्दों से वाक्य मे object के बारे मे हमारी जानकारी की बढ़ोतरी होती है उन्हे Object Complement कहते है। जैसे:

I painted the room white. (मैंने कमरे मे सफेद रंग किया।)

जैसा कि हम जानते है कि 'the room' इस वाक्य मे Object है क्योंकि सब्जेक्ट द्वारा की गई क्रिया का प्रभाव उस पर पड़ रहा है। room को किस रंग मे रंगा गया? सफेद (white) रंग मे। white यहाँ Object Complement कहलाएगा, क्योंकि ये Object के बारे मे हमारी जानकारी को बढ़ा रहा है। और उदाहरण देखते है:

You made me angry. (तुमने मुझे गुस्सा दिलाया)
They elected her the college president. (उन्होंने उसे कॉलेज अध्यक्ष चुना।)
I consider this book a masterpiece. (मैं इस पुस्तक को एक उत्कृष्ट कृति मानता हूँ।)
The Judge declared him innocent. (न्यायाधीश ने उसे निर्दोष करार दिया।)
Music makes everyone happy. (संगीत सभी को आनंदित करता है।)

आइए अब हम Subject और Predicate कुछ इस तरह के मिश्रित उदाहरणों को लेते है जिससे इनको समझना और भी आसान हो।

Subject and Predicate Examples

Subject Predicate
Vaibhav ate a sandwich for lunch. (दोपहर के भोजन में वैभव ने सैंडविच खाया।)
Vaibhav ate a sandwich for lunch.
The flowers in the garden are blooming beautifully. (बगीचे में फूल खूबसूरती से खिल रहे हैं।)
The flowers in the garden are blooming beautifully.
When will your father come back home? (तुम्हारे पापा कब घर वापस आयेंगे ?)
your father. When will come back home?
Just around the corner was the restaurant. (कोने के आसपास ही रेस्तरां था।)
the restaurant Just around the corner was
Sit down. (बैठ जाओ।)
you Sit down.
Noun Subject and Predicate Active and Passive Voice Conditional Sentences Personal Pronouns
Home About Contact Us
Terms & Conditions Privacy Policy Disclaimer
Copyright © EnglishAapki.com. All rights reserved